How to Think Creatively in Hindi || Creative किसे सोचें

Creative Thinking Success की requirement हैं | और क्रिएटिव वे में सोचने के लिए हम जो भी करे उसे करने के कुछ नए और इम्प्रूव्ड तरीके सोचने होंगे |

व्हाट इस क्रिएटिव थिंकिंग | What is Creative Thinking

क्रिएटिव थिंकिंग का क्या मतलब है, क्रिएटिव थिंकिंग का मतलब होता है. बहतर ढ़ग से सोचना, ये वो थिंकिंग है जो हमेशा हमे एक बेटर वर्ल्ड बनाने के लिए encourage मतलब हमको प्रोत्साहित करना है

चलिए एक उदारहण से देखते है

एक बार एक आदमी के पास दो life insurance सेलसमैन आये थे | दोनों सेल्समेन उसे एक life insurance प्रोग्राम के बारे में बता रहे थे. दोनों ने उस आदमी से प्रॉमिस किया वो उसे एक बढ़िया प्लान ऑफर करेगे।

फर्स्ट सेलसमैन ( First Salesman)

पहले सेलसमैन ने उस आदमी को एक ओरल Presentation दी, यानि की मौखिक presentation दी. उस आदमी की जो requirement थी उसके हिसाब से उसने प्लान अपने वर्ड्स के थ्रू बताया।

Read More: 10 Teachers Day Quotations By World best Leaders In Hindi

लेकिन उस आदमी को कुछ समझ में नहीं आया सेलसमैन ने उसे टैग्स, ऑप्शन्स, social security, के बारे में एक्सप्लेन किया और बाकी technical details भी बताई सारी फिर वह आदमी सुने के बाद वो और भी कंफ्यूस हो गया और उसने उसे सेलसमैन से प्लान लेने से मना कर दिया

दूसरा सेलसमैन (Second Salesman )

अब दूसरे सेलसमैन की बारी आई उसने डिफरेंट अप्रोच यूज़ की उसने सारी हे details बड़े इंटरस्टिंग और क्रिएटिव में एक डायग्राम के थ्रू शो की,

उस आदमी को सेकंड सेलसमैन का प्रोपोजल आसानी से समझ में आ गया था इसलिए उसने उसी टाइम Insurance Deal साइन कर दि.

Read More: What is Full Form of India | India Full Form?

अब ये उदाहण ये बताता है की जब आपको अन्दर वो एबिलिटी होगी की आप creative वे में सोच सके, तब आपकी सोच का दायरा भी फैलेगा और नए नए idea भी आने लगे जो आपको आपके Goal के बहद करीब ले जायेगे, आपने थॉट्स को फ्रीडम दे और इम्पॉसिबल शब्द अपने Dictionary से निकाल दे.

नए नए Experiments करे और भीड़ से अलग अपनी पहचान बनाए टोकिंग एंड listening की practice करे, यानि बात चीत करने और सुन दोनों की ही practice करे।

और ऐसे लोगो के साथ ज्यादा से ज्यादा कनेक्ट करे जो खुद क्रिएटिव थिंकर है।

Leave a Comment